माह के आरंभ में मीन राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी गुरु माह के आरंभ में मीन राशि में गोचरस्थ होंगे. मंगल का गोचर भी मीन राशि में होने से गुरु मंगल युति का निर्माण होगा. सूर्य माह आरंभ में वृष राशि में

माह के आरंभ में कुंभ राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी शनि का गोचर अपनी स्वराशि कुंभ में होगा. इसी समय शनि कुंभ राशि में वक्री भी होंगे. गुरु माह के आरंभ में मीन राशि में गोचरस्थ होंगे. मंगल का गोचर भी मीन

माह के आरंभ में मकर राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी शनि का गोचर कुंभ राशि में होगा. जून को शनि कुंभ राशि में वक्री होंगे. गुरु माह के आरंभ में मीन राशि में गोचरस्थ होंगे. मंगल का गोचर भी मीन राशि में होने

माह के आरंभ में धनु राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी गुरु(बृहस्पति) माह के आरंभ में मीन राशि में गोचरस्थ होंगे. मंगल का गोचर भी मीन राशि में होने से गुरु मंगल युति का निर्माण होगा ओर इस युति की समाप्ति माह

माह के आरंभ में वृश्चिक राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी मंगल माह के आरंभ में मीन राशि में गोचरस्थ होगा. मीन राशि में मंगल का युति संबंध बृहस्पति से होगा, 27 जून को मंगल मेष राशि में प्रवेश करेंगे यहां मंगल

माह के आरंभ में तुला राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी शुक्र माह आरंभ में मेष राशि में राहु के साथ युति संबंध में गोचरस्थ होगा. 18 जून को शुक्र वृष राशि में प्रवेश करेंगे जहां बुध के साथ इनका युति संबंध होगा.

माह के आरंभ में कन्या राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी बुध माह आरंभ में वृष राशि में होंगे. बुध पूरे माह वृष राशि में गोचरस्थ होंगे 3 जून को बुध वक्री अवस्था से मार्गी होकर गोचरस्थ होंगे. माह आरंभ में सूर्य

माह के आरंभ में सिंह राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी सूर्य माह आरंभ में वृष राशि में होंगे. वृष राशि में सूर्य का युति संबंध बुध के साथ बना रहेगा. माह मध्य के बाद सूर्य का मिथुन राशि में प्रवेश होगा. बुध

कर्क राशि वालों के लिए माह का आरंभिक समय आर्थिक स्थिति के लिए सामान्य रह सकता है. आय के स्त्रोत बने रह सकते हैं. उत्साह बना रहेगा. कुछ मामलों में स्थिति एकाग्रता की कमी से परेशान हो सकती है. घरेलू स्तर पर खर्चों की स्थिति कभी अधिक तो कभी

राशि स्वामी के द्वादश भाव स्थन में होने के कारण वित्तीय मामलों में आपको खर्चों की अधिकता देखने को मिल सकती है. इस समय आपका धन स्वास्थ्य, यात्रा, जीवनसाथी एवं बाहरी कार्यों पर अधिक व्यय होता दिखाई देता है. कुछ कानूनी दावपेचों में भी ये

वृष राशि वालों के लिए इस माह ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार होगी. राशि स्वामी शुक्र मेष राशि में गोचर करेंगे. शुक्र की युति इस समय मेष राशि में राहु के साथ होगी. 18 जून को शुक्र का राशि परिवर्तन वृष राशि में होगा तब शुक्र बुध युति का आरंभ

माह के आरंभ में मेष राशि के लिए ग्रहों की स्थिति इस प्रकार रहने वाली है. राशि स्वामी मंगल माह आरंभ में मीन राशि में गोचरस्थ होंगे. मीन राशि में मंगल का युति संबंध बृहस्पति से होगा, इसके पश्चात माह के आखिर में मंगल मीन से निकलकर मेष में चले

इस माह आपके पास कुछ सकारात्मक अवसर होंगे, राशि स्वामी की मजबूत स्थिति के चलते आप कुछ अच्छे लाभ को प्राप्त कर पाने में सक्षम होंगे. आप अपनी मेहनत का कुछ लाभ इस समय प्राप्त कर पाएंगे. आपके परिश्रम का बेहतर फल आप को मिलेगा. गुरु शुक्र का युति

कुंभ राशि वालों के लिए इस माह ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार होगी. राशि स्वामी शनि का गोचर कुंभ राशि में होगा. बुध का गोचर माह के आरंभ में वृष राशि में होगा. 10 मई में बुध वृषभ राशि में वक्री होकर गोचर करेंगे. 14 मई को बुध की युति सूर्य के

मकर राशि वालों के लिए इस माह ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार होगी. राशि स्वामी शनि का गोचर कुंभ राशि में होगा. बुध का गोचर माह के आरंभ में वृष राशि में होगा. 10 मई में बुध वृषभ राशि में वक्री होकर गोचर करेंगे. 14 मई को बुध की युति सूर्य के

धनु राशि वालों के लिए इस माह ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार होगी. राशि स्वामी बृहस्पति का गोचर मीन राशि में होगा. बुध का गोचर माह के आरंभ में वृष राशि में होगा. 10 मई में बुध वृषभ राशि में वक्री होकर गोचर करेंगे. 14 मई को बुध की युति सूर्य

वृश्चिक राशि वालों के लिए इस माह ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार होगी. माह के आरंभ में मंगल का गोचर इस समय पर कुंभ राशि में हो रहा होगा. मंगल की शनि के साथ युति इस समय कुंभ राशि में बन रही होगी. 17 मई मंगल का राशि परिवर्तन मीन राशि में होने

तुला राशि वालों के लिए इस माह ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार होगी. माह आरंभ में राशि स्वामी शुक्र मीन राशि में गोचर करेंगे. 23 मई शुक्र का राशि परिवर्तन मेष राशि में होगा. बुध का गोचर माह के आरंभ में वृष राशि में होगा. 10 मई में बुध वृषभ

कन्या राशि वालों के लिए इस माह ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार होगी. राशि स्वामी बुध का गोचर माह के आरंभ में वृष राशि में होगा. 10 मई में बुध वृषभ राशि में वक्री होकर गोचर करेंगे. 14 मई को बुध की युति सूर्य के साथ वृषभ राशि में होगी. माह

सिंह राशि वालों के लिए इस माह ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार होगी. राशि स्वामी सूर्य का गोचर माह के आरंभ में मेष राशि में होगा यहां पर सूर्य का युति संबंध राहु के साथ होगा. माह मध्य के बाद सूर्य का राशि परिवर्तन वृषभ राशि में होगा और सूर्य